महाशिवरात्रि का महत्व और व्रत के लिए कुछ ख़ास रेसिपी Vrat ke Vyanjan

vrat ke vyanjan देवों के देव महादेव के भक्तों के लिए महाशिवरात्रि का व्रत बहुत ही विशेष महत्व रखता है। विशेष करके महाशिवरात्रि पर मंदिरों में आस्था का अद्भुत नजारा देखने को मिलता है।

महाशिवरात्रि तीनों लोकों के मालिक भोले नाथ का सबसे बड़ा त्योहार है। मान्यता हैं कि महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव भूमि पर उन सभी जगहों पर होते हैं जहां पर उनके शिवलिंग हैं।

आखिर क्यों मनाई जाती हैं शिवरात्रि?

कहते है कि इस दिन भगवान शंकर व मां पार्वती का विवाह हुआ था। और इसी दिन सबसे पहला शिवलिंग भी प्रकट हुआ था। और साथ ही साथ महाशिवरात्रि के रोज़ महादेव ने कालकूट नामक विष को अपने गले में रख लिया था। जो कि समुद्र मंथन के वक्त बाहर आया था।

इस साल यह शुभ व्रत 13 फ़रवरी मंगवार को मनाया जा रहा है। इस दिन व्रत रखने से महादेव जल्द ही प्रसन्न होकर उपवासक की हर मनोकामना पूरी कर देते हैं। इस व्रत को सभी स्त्री-पुरुष, युवा, बुजुर्ग और बच्चे रखते हैं।

शिवरात्रि या फिर दूसरे व्रत के समय आपको फलाहारी खाने की जरूरत पड़ती है। इन खास अवसरों पर आप तरह तरह के खाने बनाकर खा सकते हैं।

शिवरात्रि व्रत के व्यंजनों में आपको नमक की जगह पर सैंधा नमक का इस्तेमाल करना हैं। और लाल मिर्च पाउडर की जगह पर काली मिर्च पाउडर का इस्तेमाल करते हैं। बहुत से लोग व्रत में मूंगफली का इस्तेमाल भी नहीं करते हैं। एसी परिस्थिति में आप मूंगफली को अपनी सामग्री से निकाल दें। आप अपनी पसंद के व्यंजन हमारी दी हुई इस विधि लिस्ट से चुन सकते है।

आप इनमे से कोई भी अपनी पसंद की रेसिपी बना सकते है और साथ ही साथ फल वगैरह का भी सेवन करे चाय के साथ आलू के पकौड़े बनाकर खाएं इस मौसम में दिन थोड़ा बड़ा हो जाता है तो इसलिए कीवी स्मूदी

बनाकर पीने से आपको फ्रेश महसूस होगा।

शेयर करें:

Leave a Comment