लहसुन का अचार रेसिपी, जानिये फायदे और गुण Lahsun ka Achar Garlic Pickle

लहसुन (Garlic) में वैसे तो बहुत सारे गुण है लेकिन हम सभी गुणों का बखान नहीं कर सकते क्यूंकि लहसुन को अमरत्व प्राप्त है और ये बात बहुत ही कम लोग जानते हैं लहसुन खाने में जितना स्वादिष्ट (Delicious) होता है, उतना ही यह पौष्टिक (Nutritious) भी है। लहसुन की एक छोटी सी कलि भी हजारो सालों से पूरे शरीर के स्वास्थ में काफी लाभकारी मानी जाती है। lahsun ke fayde

कच्चे लहसुन का तेल कीटाणुरोधी, जीवाणुरोधी, एंटीसेप्टिक और जंतुनाशक के रूप में कार्य करने के लिए मदद करता है कच्चे लहसुन का तेल एंटीऑक्सीडेंट भी है। लहसुन में गुणकारी सल्फ़र होता है, जिसकी वजह से यह थोड़ा कसैला होता है और इसकी महक भी तीखी होती है।

और इसके अलावा लहसुन में एलिसिन होता है, जो की एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल,एंटी-फंगल और एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। लहसुन आपके पेट और डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए बहुत अच्छा है। ब्लड प्रेशर, हीलिंग और डिटॉक्सिफिकेशन जैसी दिक्कतों में लहसुन बहुत ही उपयोगी और लाभदायक है।

लहसुन विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता है और मूल्यवान मूत्रवर्धक के रूप में माना जाता है। हर दिन आप दही या डेयली उत्पादों में कीमा बनाया हुआ या फिर कटा हुआ लहसुन डालकर खा सकते हैं। इसका उपयोग भोजन में डालने में भी किया जा सकता है। और लहसुन का अचार भी खा सकते हैं लहसुन से बना हुआ चटपटा और टेस्टी अचार भी खाने के स्वाद में चार चाँद लगा देता हैं तो फिर देखते हैं लहसुन के आचार की ये रेसिपी।

आवश्यक सामग्री – necessary ingredients – lahasun ka achaar recipe

  • लहसुन = आधा किलो कलियां छिली हुई
  • राई =  25 ग्राम, दरदरी पिसी हुई
  • मेथी = 25 ग्राम, दरदरी पिसी हुई
  • हल्‍दी पाडउर =15 ग्राम
  • नमक =25 ग्राम
  • कलौंजी =25 ग्राम
  • सौंफ =25 ग्राम
  • लाल मिर्च पाउडर =25 ग्राम
  • अजवायन =½ चम्‍मच
  • सरसों का तेल = एककप

विधि – how to make lahasun ka achaar recipe

सबसे पहले लहसुन को साफ पानी से धोकर एक घंटे के लिए धूप में सूखने के लिए फैला दें और फिर इसे मर्तबान में भर कर रख दें।

अब तेल को एक कड़ाही में तेज़ गर्म कर लें गरम तेल में राई, मेथी, सौंफ, कलौंजी व अजवायन डाल दें और इसके बाद जब तेल हल्का गुनगुना हो जाए तो फिर इसमें बाकी मसाले मिलाकर लहसुन वाले मर्तबान में
डाल दें।

और अब इस मर्तबान को अच्छी तरह से हिलाएं ताकि लहसुन मसाले में खूब अच्छी तरह ये मिक्स हो जाए अचार के मर्तबान को सूती कपड़े से ढककर एक हफ्ते तक रोज़ धूप में रखें और इसे दिन में एक बार जरुर हिलाएं ताकि अचार अच्छी तरह से मिक्स होता रहे।

एक हफ्ते के बाद अचार को चेक करें अगर ये गल गया तो फिर इसका इस्तेमाल करना शुरू कर सकते हैं लहसुन का चटपटा अचार तैयार है।

शेयर करें:

3 thoughts on “लहसुन का अचार रेसिपी, जानिये फायदे और गुण Lahsun ka Achar Garlic Pickle”

Leave a Comment