पंजाबी स्टाइल सरसों का साग बनाने की विधि Sarson ka Saag Recipe in Hindi

Sarson ka Saag Recipe in Hindi सरसों का साग पंजाब की एक बहुत ही लोकप्रिय डिश है, जिसे वहां पर हर कोई बड़े ही चाओ से खाता है। गर्मागर्म सरसों का साग और घी लगी मक्की या बगड़ की रोटियां खाकर तो मज़ा ही आ जाता हैं। आज मै आपको पंजाबी सरसों का साग बनाने की सही व सरल विधि बता रही हूँ।

आवश्यक सामग्री – ingredients for sarson ka saag recipe

  • सरसों = आधा किलो
  • बथवा = 250 ग्राम
  • पालक = 250 ग्राम
  • लहसुन = 15 कलियाँ बारीक़ कटी हुई
  • हरी मिर्च = 12 से 15 बारीक़ कटी हुई
  • अदरक = 2 इंच का टुकड़ा, बारीक़ कटा हुआ
  • मक्की का आटा = तीन टीस्पून
  • नमक = स्वाद अनुसार

साग का तड़का

  • प्याज़ = एक बारीक़ चोप कर लें
  • देसी घी = दो टेबल स्पून
  • टमाटर = एक बारीक़ कटा हुआ
  • हरी मिर्च = दो बारीक़ कटी हुई
  • अदरक = एक इंच का टुकड़ा कद्दुकस कर लें
  • लहसुन = पांच कलियाँ, कद्दुकस कर लें
  • धनिया पाउडर = आधा टीस्पून
  • नमक = थोड़ा सा

विधि – how to make punjabi sarson ka saag

सरसों लेते वक्त आपको एक बात का खास ध्यान रखना है कि इसकी डंठल ज्यादा मोटी ना हो। नहीं तो वह अच्छे से गलेगी नहीं और इसके फूल भी बहुत ज्यादा ना बस थोड़े से ही हो थोड़ा सा इसमें मीठापन हो तभी आपका बढ़िया साग बनेगा। सरसों पालक और बथवे को अच्छे से साफ करके धोकर बरीक-बारीक काट लें।

वैसे तो साग को हांड़ी में बनाते है लेकिन मै इसको प्रेशर कुकर में बना रही हूँ। सरसों पालक और बथवे को प्रेशर कुकर में डाल दें और ऊपर से इसमें दो टीस्पून नमक और 2 से 3 टेबल स्पून पानी डाल दे। इसमें ज्यादा पानी नहीं डालना है क्योंकि साग में तो पानी होता ही है और पालक में भी काफी ज्यादा पानी होता है। इसीलिए इसमें थोड़ा सा ही पानी डालें ताकि इसमें एक सिटी आ जाएँ।

कुकर का ढक्कन बंद कर दें और गैस को मीडियम कर दें। अब इसको एक सीटी आने तक पका लें एक सीटी आने पर गैस को बंद कर दें और कुकर का सारा प्रेशर खत्म होने दें। जब कुकर का सारा प्रेशर खत्म हो जाए तो फिर कुकर को खोल कर देखें।

इसका सारा पानी अलग हो गया है और साग भी नर्म होना शुरू हो गया है। अब इसमें बारीक़ कटा हुआ अदरक, लहसुन और हरी मिर्च डालकर इसको रायता बनाने वाली मथानी से हल्का सा मैश कर लें।

फिर इसको एक प्लेट से ढक दें और हल्का सा खुला रहने दे। ताकि हमारा साग और पालक अच्छे से गल जाए और स्टीम पूरी अंदर ना जाए थोड़ी सी बाहर भी आएं। क्योकि अगर स्टीम पूरी अंदर जाएगी तो साग में कड़वाहट आ जाएगी अब साग को आधे घंटे तक हल्की आंच पर पकने दें बीच-बीच में इसको मथानी से अच्छे से मैश करते रहे।

10 मिनट बाद आप इसको खोल कर देखें और मथानी से अच्छे से मैश कर दे। फिर ढक दें 10 मिनट बाद फिर से चेक करें और अच्छे से मैश करें।

हाँ अगर आपको लगे कि इसमें पानी खुश हो गया है तो पानी को उबालकर ही डाले। ठंडा पानी कभी साग में ना डालें नहीं तो साग के सारे पत्ते अच्छे से नहीं गलेंगे। जब आपका साग अच्छे से मैश हो जाए मतलब घुट जाएँ तो फिर इसमें मक्की का आटा डाल दें। साग में हमेशा मक्की का आटा ही डालना तभी साग का अच्छा टेस्ट आता है।

तीन टीस्पून मक्की का आटा और तीन टेबलस्पून गर्म पानी डालकर साग को अच्छे से घोट लें। इसके डंठल और पत्ते अच्छे से मैश हो जाने चाहिए।

मक्की का आटा डालने से साग में चिकनाहट आ जाती है इस स्टेज पर आप साग को चख सकते है। कि साग में नमक मिर्च कम तो नहीं अगर आपको कम लगे तो अपने स्वाद अनुसार और डाल दें। अगर आपको साग गाढ़ा लगे तो थोड़ा सा उबला हुआ पानी डाल दें। (पानी साग में उबला हुआ ही डाले तभी आपका साग मजेदार बनेगा) आप अपनी कॉन्सीटेंसी के हिसाब से साग को तैयार कर लें।

तड़का लगाने के लिए पैन में दो टेबल स्पून देसी घी डालें घी गर्म होने पर इसमें एक प्याज़ डालकर हल्का सा ब्राउन होने तक फ्राई कर लें। जब प्याज़ ब्राउन हो जाए तो इसमें लहसुन और अदरक डालकर तीन से चार मिनट तक भून लें। (आप सोच  रहे होंगे की फिर से लहसुन और अदरक डाल रहे है तो साग शरीर के लिए ठंडा होता है और लहसुन इसके लिए बहुत अच्छा रहता है) ताकि अदरक और लहसुन का कच्चापन खत्म हो जाएँ।

अब इसमें एक बारीक़ कटा हुआ टमाटर, थोड़ा सा नमक और आधा टीस्पून धनिया पाउडर डाल दें। बाकि इसमें कोई और मसाला ना डाले क्योकि साग प्लेन अच्छा लगता है और उसी का सबसे बढियां टेस्ट आता है। अब इसको 2 ऐ 3 मिनट ढककर पका लें ताकि टमाटर अच्छे से गल जाएँ।

अगर आपके टमाटर मैश नहीं हो रहे है तो इसमें थोड़ा सा पानी डाल दें। ताकि टमाटर और प्याज़ अच्छे से मैश हो जाएँ और साग के साथ अच्छे से मिल जाएँ। पानी डालकर टमाटर-प्याज़ को 5 मिनट पका लें पांच मिनट में हमारा तड़का अच्छे से तैयार हो जायेगा पांच मिनट बाद साग को तड़के में डालकर मिक्स कर लें मजेदार Punjabi Sarson ka Saag बनकर तैयार है।

सबसे आखरी चीज जो मुझे बहुत पसंद है एक पैन में दो चम्मच देसी घी डाल दें। क्योकि साग में देसी घी और मक्खन बहुत अच्छा लगता है घी गर्म होने पर इसमें एक चौथाई चम्मच हींग, चार हरी मिर्च, तीन सूखी मिर्च और तीन से चार लहसुन की कालियां डालकर हल्का सा फ्राई करें। फिर इस तड़के को साग में ऊपर से डाल दें आपका मजेदार पंजाबी साग बनकर तैयार है। इसमें से खुशबू भी बहुत अच्छी आ रही है। आप एक बार सरसों का साग इस तरह से ज़रूर बनाएं ये आपको बहुत पसंद आएगा ये बहुत ही आसानी से बन जाता है मेरी बताई हुई सभी टिप्स को ध्यान में रखे।

Panjabi Sarso Ka Saag

शेयर करें:

1 thought on “पंजाबी स्टाइल सरसों का साग बनाने की विधि Sarson ka Saag Recipe in Hindi”

Leave a Comment