माँ का दूध बढ़ाने के ये आश्चर्यजनक उपाय क्या आपको पता है?

delivery ke bad dudh badhane ke upay माँ का अपने शिशु को दूध पिलाना प्यार से भरा हुआ कुदरत का एक अद्भुत नियम हैं। माँ का दूध शिशु के लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं। माँ का जो पहला पीला दूध होता है वह पीला दूध बच्चे को गम्भीर बीमारियों से लड़ने की ताकत प्रदान करता हैं।

इसी के साथ स्तनपान करवाने से माँ व बच्चे के बीच एक भवनात्मक रिश्ता भी बन जाता हैं। परन्तु कई बार माँ के स्तनों में दूध की कमी होने लगती हैं जिस वजह से यह बहुत ही संजीदा स्तिथि बन जाती हैं।

आप लोगो की इसी समस्या को दूर करने के लिए यहाँ मै आपको कुछ ऐसे नेचुरल तरीके बता रही  हूँ जो कि माँ के दूध को बढ़ाने में आपकी काफी सहायता करेंगे।

बच्चे के पैदा होने के 40 से 50 मिनट के अन्दर-अन्दर माँ को बच्चे को अपना दूध ज़रूर पिला देना चाहिए। ऑपरेशन से जन्मे बच्चे को भी बेहोशी की दवा का असर ख़त्म होते ही स्तनपान अवश्य करवा देना चाहिए।

जब माँ को ज्यादा दूध नहीं आता हैं तो फिर बच्चे व माँ दोनों के लिए ये बहुत ही गम्भीर स्थिति हो जाती हैं।

अगर आपको भी दूध ज्यादा नहीं हो रहा हैं तो फिर इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है। आप इन घरेलू उपाएं को अपना कर अपने ब्रैस्ट में दूध की मात्रा को बढ़ा सकती हैं। ब्रैस्ट में दूध की कमी होने की कई वजह हो सकती हैं जैसे कि तनाव, ख़राब खानपान, नींद का पूरा न होना, टेंशन वगैरह।

दूध को बढ़ाने के घरेलू उपाय how to increase breastmilk supply fast

breast milk badhane ke upay in hindi

पौष्टिक भोजन करे – nutritious food in hindi

हेल्दी व पौष्टिक भोजन करने से माँ के शरीर में दूध की वृद्धि होती हैं। और अगर आप पहली-पहली बार माँ बनी हैं तो फिर आपको अपने खाने पीने पर खास ध्यान रखना पड़ेगा आप सिर्फ जीभ के स्वाद के लिए खाना न खाएं। केवल स्वाद के लिए भोजन करने के बजाएं अपने बच्चे के स्वास्थ के बारे में सोचे।

लहसुन का सेवन करे – garlic for increasing breast milk

लहसुन को खाने से आपके दूध में ज्यादा उत्पादन की क्षमता बढ़ती हैं। लहसुन को कच्चा न खाए बल्कि इसे मीट, करी, सब्जी या दाल में डाल कर पका कर खाए। लहसुन के नियमित सेवन करने से माँ के स्तनों में दूध बढ़ाया जा सकता हैं।

बॉडी में दूध अधिक पैदा करने के लिए अच्छे खानपान का होना काफी जरूरी होता हैं। अधिक तला भूना खाना न खाए समय पर ही भोजन करे। क्योकि आप समय पर भोजन करेंगी तो तभी बच्चे को दूध मिलेगा आप अपने आहार में ओट्स का दलिया खाएं। इससे काफी दूध बनता है कई लोगो का मानना भी यही हैं की ओट्स का दलिया खाने से दूध में वृद्धि हो जाती हैं। और साथ ही दूध भी पिए दूध पीने से भी दूध उतरता है।

स्तनपान कराते टाइम स्तनों को बदलती रहे

change breast during feedingबच्चे को दूध पिलाते वक्त अपने ब्रेस्ट को बदलती रहे। इससे बॉडी में दूध की मात्रा अधिक पैदा होगी। और ऐसा करने से शिशु भी आराम से स्तनपान कर लेता है। क्योकि ऐसा करने से दोनों स्तन खाली होते रहेंगे और इनमे दूध भी पैदा होता रहेगा। एक बार स्तनपान करवाते टाइम तकरीबन दो बार स्तन को बदले। और हाँ एक और खास बात कभी भी एक ही स्तन से बच्चे को दूध ना पिलाएं वरना आपका एक स्तन छोटा और दूसरा बड़ा हो जायेगा।

तनाव

अगर किसी भी माँ को पैसे या घर से संबंधी कोई भी टेंशन रहती हैं तो फिर उसके सभी अंगो पर इसका तनाव पड़ता हैं इस वजह से भी उसके स्तनों में दूध की कमी हो जाती हैं। अधिक टेंशन में रहने वाली महिलाओ का दूध वक्त से पहले ही सूखने लगता हैं। इसीलिए दूध की मात्रा को बढ़ाने के लिए सबसे पहले आपको किसी भी तरह के तनाव से दूर रहना होगा।

ड्राई फ्रूट का सेवन करे

दूध की मात्रा को बढ़ाने के लिए आपको ड्राई फ्रूट खाने चाहिए जैसे कि काजू, बादाम और पिस्ता का सेवन ज़रूर करे। यह सभी सूखे ड्राई फ्रूट दूध को बढ़ाने में मदद करते हैं। इन सूखे मेवों को कच्चा खाने से आपको अधिक लाभ मिलेगा।

इन मेवों से आपको Vitamins, minerals व प्रोटीन की कमी पूरी होगी। अगर आप चाहे तो इन सभी मेवों को दूध के साथ भी ले सकती हैं।

स्तनपान कराते वक्त ब्रेस्ट पर दबाव डाले

बच्चे को दूध पिलाते समय अपने स्तन को दबाएं। ऐसा करने से आपकी कम दूध पैदा होने की परेशानी भी खत्म हो जाएगी। इस तरह से एक बार स्तनपान करवाने से स्तन पूरी तरह से खाली हो जाता हैं।

तुलसी और करेले का सेवन

तुलसी व करेला दोनों ही विटामिन के काफी अच्छे स्रोत माने जाते हैं इनके इस्तेमाल से स्तनों में अधिक दूध पैदा होता हैं। और तुलसी को आप सूप या शहद में मिलाकर खा सकते है। आप तुलसी की चाय भी बनाकर पी सकते हैं। करेला महिलाओं में लेक्टेशन को सही करता हैं। करेले की सब्ज़ी बनाते टाइम कम ही मसालों का प्रयोग करे ताकि यह आपको आसानी से पच सके।

चना

करीब 50 से 60 ग्राम काबुली चने को रात में दूध में भिगो कर रख दें। फिर सुबह के टाइम दूध को छानकर अलग निकाल लें। फिर इसके बाद इन चनों को अच्छे से चबा-चबाकर खाएं। और फिर ऊपर से इसी दूध को गर्म करके पीने से महिलाओ के दूध में पर्याप्त मात्रा में वृद्धि हो जाती है।

इसके अलावा कैसी भी स्थिति क्यों न जाएं जब तक कि पूरी तरह से दूध निकलना बंद नहीं हो जाता जब तक आप दूध पैदा करने के लिए मार्केट में मिलने वाली दवाईयों का प्रयोग बिलकुल भी न करे।

मुलेठी दूध बढ़ने के लिए कारगर

प्रसव के बाद बच्चों के लिए मां का दूध सबसे ज्यादा फायदेमंद रहता है। कुछ महिलाओं में स्तनपान के दौरान दूध कम बनता है। ऐसी महिलाओं को मुलेठी का सेवन करना चाहिए। मुलेठी स्तनों में दूध बढ़ाने में मदद करती है।

इसके लिए 2 चम्मच मुलेठी चूर्ण और 3 चम्मच शतावर चूर्ण को एक कप दूध में उबालें। जब उबलता हुए दूध पककर आधा हो जाए तो इसे आंच से उतार लें। इसमें से आधा सुबह और बाकी आधा शाम को एक कप दूध में मिलाकर पियें। इसके अलावा 100 मिली दूध में 2-4 ग्राम मुलेठी और 5-10 ग्राम मिश्री मिलाकर मां को रोज़ाना सुबह शाम पिलाने से स्तनों में दूध ज्यादा बनता है।

शतावरी चूर्ण दूध बढ़ने के लिए

नेई माँ को सुबह शाम 1-1 चम्मच दूध में डालकर शतावरी चूर्ण का सेवन करना चाहिए इसके प्रयोग से जल्द ही दूध की तादात बढ़ने लगती है और बच्चे का पेट भी भरने लगता है।

शेयर करें:

55 thoughts on “माँ का दूध बढ़ाने के ये आश्चर्यजनक उपाय क्या आपको पता है?”

  1. Mera bcha 6 months ka h or mera hi dudh pita h.
    mere kuch b garam khane se use loosemotion ho jate h or rashes b. Kya mujhe bche ko dudh pilana bnd kr dena chaiye?
    mera dudh b bhot km ane lga h jisse uska pet nhi bhrta h.
    Bche ko thik krne or dudh bdhane ke upaye btaye?
    Apne dudh k alawa loose motion hone par bche ko kya khilau jisse uska pet bhar jaye?

    प्रतिक्रिया
  2. मेरे बच्चे को मेरे दूध से दस्त बहुत हो रहे थे जो अभी 2 महीने का होने वाला है तो मने उसे गाय का दूध देना सुरु किया था और मने दवा खा ली थी दूध सुखाने वाली

    क्या कोई दवा है जिससे मेरा दूध दुबारा उतर सके बच्चे को दिक्कत हो रही है गाय के दूध से कोई उपाय बताने का कष्ट करें

    प्रतिक्रिया
    • आपको दूध सुखाने वाली दवाई नहीं खानी थी छोटे बच्चे तो बार-बार पोटी करते है आप बच्चे को दोबारा से दूध पिलाना शुरू करे दूध उतरने लगेगा साथ ही आप दलीय खाएं और दूध पिएं

      प्रतिक्रिया
    • दूध बढाने के लिए आप मीठा दलिया, पोहा खीर और लिकविड चीज़े खाएं साथ ही एक गिलास दूध सुबह और एक गिलास दूध रात को पिये ऐसा करने से आपको दूध आने लगेगा

      प्रतिक्रिया
      • मेरा बच्चा एक साल क हो गया है वाह कमजोर है बहुत हम 7 मंथ दूध पिलाई हूँ मुझे दूध पिलाने क दिल कर रहा है मेरी इच्छा है हेल्प करें उपया बताये

        प्रतिक्रिया
        • आप अपने बेबी को दोबारा से दूध पिला सकते है इसके लिए आप रोज़ाना सुबह व शाम एक गिलास दूध पिएं और अपने आहार में दलिया और लिक्विड चीजों का सेवन करें आपको दूध बनने लगेगा

          प्रतिक्रिया
    • ऐसा नहीं है आप बच्चे को दूध पिलाने की कोशिश करें कभी-कभी बच्चा दूध को सही से पकड़ नहीं पाता है इसी वजह से थोड़ी मुश्किल होती है आप हाथ से पकडकर बच्चे के मुहं में दें

      प्रतिक्रिया
    • क्या होता है जब हम बच्चे को दूध नहीं पिलाते तो दूध आना बंद हो जाता है और बच्चा भी दूध नहीं पीता क्योकि उसे फीडर से दूध पीने की आदत हो जाती है लेकिन अगर आप कोशिश करेंगी तो आप को दूध आने लगेगा

      प्रतिक्रिया
  3. Komal , शायद आपको अजीब लगे, पर किसी ने नजर लगायी है, जब आप अपने बच्चे को स्तनपान करवा रही होगी तब, किसीने नजर लगायी है। अपनी और अपने बच्चे की नजर उतरवाऐ। घर की बुजुर्ग महिला से पुछे क्या करना चाहिए।

    ऐसा अक्सर होता है।

    प्रतिक्रिया
  4. Mere bachhe ne sirf 20 din mera feed liya aur uske baad chhod Diya….ab vo 4 mahine ka hai aur sirf formula milk pita hai…jab bhi usse feed karati Hun toh bahut rota hai… aisa nahi hai ke mera doodh nhi aata… bas vo pita hi nahi hai…na hi usko koi neck problem hai bas vo rota hai jab mein usko doodh pilati hun… ek aunty me bola ke shayad tumhara doodh kadwa ho gya hai isliye vo doodh nahi pita…. Kya aisa hota hai agar hota hai toh koi solution dena… kyuki Mera baby abhi sirf 4 months ka hai aur 2 baar hopitalised ho chuka hai because of stomach infection..

    प्रतिक्रिया
    • इसके लिए आप माँ को दूध का पतला-पतला दलिया बनाकर खिलाएं माँ अपने खाने में लिक्विड चीज़े ज्यादा खाएं सूखी सब्जियां या सख्त चीज़े ना खाएं ऐसा करने से काफी दूध बनता है

      प्रतिक्रिया

Leave a Comment