आप भी चाहते है मूंग दाल का स्वादिष्ट हलवा बनाना तो ये टिप्स आपके लिए है

मूंगदाल का हलवा खाने में जितना लज़ीज़ होता है (cooking) इसे बनाने में उतनी ही मेहनत भी लगती है हलवा बनाने समय अगर कुछ छोटी बातों का ध्यान रख लिया जाएं तो आप शेफ को भी फेल (cooking tips) कर सकती है।

टिप्‍स

मूंग दाल का हलवा बनानें के लिए आप धुली हुई मूंग दाल भी ले सकते हैं लेकिन छिलके वाली मूंग दाल का हलवा ज्यादा स्वादिष्ट बनता है।

मूंग की दाल का हलवा बनाने के लिए दाल को अधिक समय तक भिगोकर नहीं रखना चाहिए क्योकि ये जल्दी गल जाती है इसीलिए तीन से चार घंटे का समय ही काफी (food recipes) होगा।

आप जब भी मूंग दाल का हलवा बनाएं तो इसमें ताजा मावा ही डालना चाहिए अगर आपके पास ताजा मावा नहीं है। तो फिर आप इसकी जगह एक कप ताजा मलाई भी डाल सकते हैं।

अगर आप दानेदार और जल्दी बनने वाला हलवा बनाना चाहते हैं तो फिर इसमें थोड़ा-सा गेहूं का आटा डाल लें। मूंग दाल के हलवे को बनने में दूसरे हलवों से अधिक समय लगता है। इसलिए हलवा भूनने पर घी अलग हो जाता है और फिर वह तले में नहीं चिपकता है इसे पकाते समय धीरज से काम लें।

हलवा भूनते समय गरम-घी थोड़ी-थोड़ी देर में हलवे में डालने से हलवा जल्दी भून जाता है।

अगर आप चाहें तो दो चुटकी खाने वाला पीला रंग भी हलवे में डाल सकते हैं। इससे हलवे का कलर बहुत अच्छा आता है।

सबसे ध्यान देने वाली बात तो यह है कि दाल को कड़ाही में या फिर भगोने में भूनते समय इसे बराबर चलाते रहे अगर आप हलवे को ऐसे ही छोड़ देंगे तो फिर यह बर्तन की तली में भी चिपक सकता है।

मूंगदाल के हलवे को आप फ्रिज में हफ्ते तक रख कर खा सकते है।

हलवे में डालने वाले ड्राई फ्रूट को पहले घी में तल लें ऐसा करने से इसका स्वाद काफी अच्छा आता है।

गार्निशिंग के लिए प्रयोग होने वाले बादाम और काजू को भी आप पहले से ही घी में तलकर रख लें।

मूंगदाल के हलवे में हमेशा चाशनी (dinner recipes) बनाकर डालनी चाहिए क्योकि ऐसे ही चीनी डालने से हमारा हलवा ऐठ भी सकता है। जब दाल अच्छी तरह से भून जाए तब चाशनी डालने के बाद आपको इसे अच्छे से पकाना चाहिए।

शेयर करें:

2 thoughts on “आप भी चाहते है मूंग दाल का स्वादिष्ट हलवा बनाना तो ये टिप्स आपके लिए है”

Leave a Comment