पानी नहीं बल्कि नमक है बार-बार बाथरुम जाने का असली कारण

मेडिकल साइंस में तरह-तरह के रिसर्च और प्रयोग होते ही रहते हैं और नमक को लेकर भी कई देशों, संस्थाओं और यूनिवर्सिटीज ने प्रयोग किए हैं और तरह-तरह के परिणाम सामने लाए हैं अगर इन परिणामों को देखें तो आप पाएंगे कि ज्यादा नमक सेहत के लिए बहुत हानिकारक है।

और इस समय नमक को लेकर जापान के द्वारा किया गया एक प्रयोग बहुत चर्चा में है जिसमें ये बताया गया है कि अगर आपको बार-बार बाथरुम जाने की ज़रूरत पड़ रही है तो फिर इसकी वजह ज्यादा नमक हो सकता है।

क्या है प्रयोग और क्या है परिणाम? आईए पढ़ते हैं।

जापान ने भी किया प्रयोग

न्यूजीलैण्ड हेराल्ड में छपी हुई खबर के अनुसार जापान के वैज्ञानिकों ने शोध में पाया हैं कि ज्यादा नमक खाने से बार-बार बाथरुम लगती है।

आखिर क्या है इस बीमारी का नाम?

इस बीमारी का नाम है नोक्टरिया है जिसमें रात के समय बार-बार बाथरुम आता है।

300 लोगों पर हुई रिसर्च

Bathroomsऔर यह रिसर्च तीन सौ लोगों पर की गई जिसमें देखा गया हैं कि जिन्होंने नमक की मात्रा को घटाकर 8 ग्राम कर दिया, उन्हें बहुत ही कम बाथरुम जाना पड़ा लेकिन जिन्होंने 11 ग्राम नमक खाया हैं उन्हें अपेक्षाकृत ज्यादा बार बाथरुम जाना पड़ा।

यहां हुई रिसर्च

यह रिसर्च लंदन में यूरोपियन सोसायटी अॉफ यूरोलॉजी कांग्रेस में पेश की गई।

इससे पहले भी हो चुकी हैं कई रिसर्च

नमक को लेकर इससे पहले भी कई सारी रिसर्च हो चुकी हैं, जिसमें यही सामने आया कि नमक सेहत के लिए बहुत ही खतरनाक है।

यूनिवर्सिटी अॉफ अल्बर्टा ने भी की थी रिसर्च

कुछ साल पहले की गई इस रिसर्च में पाया गया था कि सोडियम की मात्रा ज्यादा होने की वजह से शरीर इसे मूत्र के जरिए बाहर निकाल देता है। लेकिन सोडियम के साथ-साथ कैल्शियम भी शरीर से बाहर निकल जाता है।

हो सकती है गुर्दे में पथरी

Kidney stones

ओनलीमायहेल्थ.कॉम के अनुसार मूत्र में कैल्शियम का उच्च स्तर गुर्दे की पथरी का विकास करता है।

कम खाएं नमक

हमारी बस आपको यही सलाह है कि आप नमक कम खाएं और स्वस्थ रहें।

शेयर करें:

Leave a Comment