बार-बार होने वाली इन 10 बीमारियों कि सिर्फ एक दवा

लौंग का प्रयोग प्राचीन काल से ही आयुर्वेदिक औषधियों के तौर पर किया जाता है लौंग कई तरह की खतरनाक बीमारियों को जड़ से खत्‍म कर सकती है।

वैसे तो लौंग एक तरह का मसाला है इस मसाले का उपयोग भारतीय पकवानो मे काफी ज्यादा किया जाता है अगर प्रतिदिन लौंग का अलग-अलग तरीके से सेवन किया जाएं तो फिर इससे आपको कई तरह की बीमारियों में लाभ मिलेगा।

और आज हम आपको लौंग खाने से दूर होने वाली उन 10 बीमारियों के बारे में बता रहे हैं जिनसे शायद आप अंजान ही होंगे।

  1. लौंग के तेल कि कुछ बुंदे किसी साफ़ कपडे के टुकड़े पर टपकाकर उस कपडे को बार-बार सूंघने से प्रतिषय (जुकाम) कि समस्या ठीक हो जाती है और साथ ही नाक भी बंद नहीं होती है और अगर नाक बंद हो तो खुल जाती है।
  2. लौंग को मुंह में रख कर चूसने से मुंह की बदबू ख़त्म हो जाती है।
  3. लौंग को मुंह में रख कर उसका रस चूसने से खांसी कि समस्या से निजत मिलती है और जब तक मुंह में लोंग रहती है तब तक खांसी बंद ही रहती है।
  4. लौंग को पानी के साथ पीस लें और हलके गर्म पानी के साथ मिलाकर सेवन करने से जी मचलाना बंद हो जाता है और ज्यादा प्यास लगना भी बंद हो जाती है।
  5. लौंग को पानी के साथ पीसकर 100 ग्राम पानी में मिलाकर, छानकर मिश्री मिलाकर पीने से ह्रदय की जलन विकृति दूर हो जाती है और पेट में जलन हो तो वह भी बंद हो जाती है।
  6. जोड़ों के दर्द में लौंग का तेल मलने से सारी पीड़ा ख़त्म हो जाती है।
  7. लौंग के तेल की एक दो बूंदे बताशे पर डालकर खाने से हैजे की विकृति दूर हो जाती है।
  8.  लौंग और चिरायता दोनों बराबर-बराबर मात्रा में पानी के साथ पीसकर पिलाने से बुखार ख़त्म हो जाता है।
  9. लौंग को बकरी के दूध में घीसकर, आखों में काजल की तरह से लगाने से रतोंधी रोग ठीक हो जाता है।
  10.  एक लौंग को पीसकर, मिश्री की चाशनी में मिलाकर चाटकर खिलाने से गर्भवती महिलाओं की उल्टियां बंद हो जाती है।

Leave a Comment