शुगर की बीमारी में क्या खाएं क्या नहीं? यहाँ मिलेगी आपको पूरी जानकारी

शुगर की बीमारी आजकल भारत में काफी ज्यादा फेलती जा रही है। शुगर से परेशान होने वाले लोगो की मात्रा दिन ब दिन बढती ही जा रही है और ये पूरी दुनिया में बहुत ही तेज़ी से फेल रही है।

इस बीमारी के चलते कुछ लौगो को तो ये भी पता नहीं होता कि वह क्या खाएं और क्या ना खाएं?

आज हम आपको बतायेंगे की आपको शुगर में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए।

शुगर के रोगी को हरी पत्तेदार सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खानी चहिये। इनमे केल्शियम, मैग्नेशियम और अन्य खनिज पदार्थ काफी मात्रा में पाएं जाते है ये आपकी धमनियों को साफ करते है।

करेला, लौकी, तोरी, परवल, टमाटर, कद्दू, खीरा, ककड़ी, हरी मिर्च, पालक, बथुआ, मेथी, मूली, भिन्डी, सहजन की फली, लहसुन प्याज ये सब सब्जियां खाना डायबिटीज के मरीज़ के लिए अच्छा होता है।

शुगर के मरीज के लिए मूंग, अरहर और चने की दाल भी अच्छी होती है।

डायबिटीज के रोगी नीम्बू जामुन, पपीता, आंवला, अमरुद, खट्टा सेब तरबूज वगैरह भी खा सकते है।

फीका दूध, छाछ, लस्सी भी पी सकते है।

मिक्स चोकर युक्त आटे की रोटी इसमें गेहूँ, चना, जो, सोयाबीन मिलाकर आटा बना लें। इस आटे की रोटी खाना शुगर के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है।

लकड़ी से बने बर्तन में 8 से 10 घंटे रखे हुए पानी का इस्तेमाल करने से भी काफी फायदा होता है।

स्टीविया एक ऐसा पोधा होता है जो नेचुरल शुगर फ्री होता है। इसकी पत्तियों को सुखाकर पाउडर बना लें या गोलिया बनाकर सेवन करें इससे भी आपको बहुत फायदा होगा इसकी गोली मार्किट में भी आराम से मिल जाती है।

Olive oil जैतून का तेल

Olive oil

जैतून के तेल के रोजाना इस्तेमाल से हृदय रोग और शुगर जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है। ये डायबिटीज मरीज़ के शरीर में शुगर लेवल को बेलेंस रखता है। जो लोग खाने में जैतून के तेल का इस्तेमाल करते है उन्हें हृदय रोग और शुगर जैसी बीमारी होने के बहुत कम चांस होते है।

दालचीनी

Cinnamon

दालचीनी को हम लोग मसाले के रूप में इस्तेमाल करते है। लेकिन ये एक बहुत ही अच्छी ओश्दी भी है ये कैल्शियम और फायबर का एक बहुत ही अच्छा स्रोत है इसे गरीबो का इन्सुलिन भी कहा जाता है।

दालचीनी शुगर लेवल को कम करके डायबिटीज को कंट्रोल करती है इसके रोजाना इस्तेमाल से डायबिटीज को कम किया जा सकता है।

अलसी के बीज

alsi ke beej ke fayde

अलसी के बीज डायबिटीज के रोगी के लिए अमृत समान है। डायबिटीज के रोगी को शुगर कम और फायबर ज्यादा लेने की सलाह दी जाती है अलसी में कर्बोहाईट की मात्रा ना के बराबर होती है और फायबर प्रचुर मात्रा में होता है। अलसी ब्लड शुगर लेवल को कम करती है और डायबिटीज से बोडी पर होने वाले साइडइफेक्ट को कम करती है।

कोकोनट ऑइल

Coconut oil

नारियल के तेल को रोजाना इस्तेमाल करने से मधुमेह के रोगी को बहुत फायदा मिलता है। शुगर की बीमारी में मरीज़ इन्सुलिन को नहीं ले पाता है इसी वजह से उनका ग्लूकोज एनर्जी में कनवड नहीं हो पाता। नारियल का तेल रोगी की कोशिकाओ को बिना इन्सुलिन की मदद के आहार प्रदान करता है। इसके अलावा इन्सुलिन के निर्माण में काफी सहायता करता है।

ये सभी चीज़े डायबिटीज के मरीज़ के लिए बहुत ही फायदेमंद है उन्हें अपने खाने में इन सभी चीजों को नियमित रूप से शामिल करना चाहिए।

शुगर के रोगी को ये चीज़े नहीं खानी चाहिए

जैसे कि मिठाई, चीनी, मिश्री, गुड़, व अन्य मीठे सभी पदार्थ

चावल, आलू, अरबी, मांस, अंडा, आलू, शकरकंदी, जमीकंद, चुकंदर, शलजम, कटहल, वाईट ब्रेड,  जंक फ़ूड व शीतल पेय, कोकाकोला, पेप्सी या अन्य शीतल पेय नहीं लेने चाहिए।

नया अनाज, दही, गन्ने का रस, मौसमी, केला, अनार, अंजीर, चीकू, मीठा सेब, मीठा अंगूर, मीठा आम इन सभी चीजों का सेवन करना डायबिटीज के मरीज़ के लिए हानिकारक हो सकता है इनसे जितना दूर रहे उतना अच्छा है।

शुगर के मरीजों को खाना खाने के बाद 10 मिनट ज़रूर टहलना चाहिए।

सुबह सवेरे दो किलो मीटर सेर करनी चाहिए ऐसा करने से शुगर के मरीजों को काफी आराम मिलता है।

ज्यादा अधिक समय एक जगह पर ना बैठे रहे रोजाना एक्सरसाइज ज़रूर करें। अगर आप बताएं गये सभी नियमो का पालन करेंगे तो आपको डायबिटीज में काफी राहत मिलेगी।

शेयर करें:

2 thoughts on “शुगर की बीमारी में क्या खाएं क्या नहीं? यहाँ मिलेगी आपको पूरी जानकारी”

Leave a Comment