सत्तू की स्वादिष्ट और कम समय में बनने वाली खस्ता कचौरी Sattu Ki Kachori Recipe

दोस्तों आज मैं आपको सत्तू की कचौरी बनाने की रेसिपी बताउंगी। ये बिहार की रेसिपी हैं जो अलग स्वाद वाली कचौरी हैं। सुबह के नाश्ते में अगर कुछ अच्छा और डिफरेंट खाने को मिल जाएँ, तो पूरा दिन अच्छा रहता हैं। तो आज की रेसिपी भी ख़ास और इज़ी हैं। जिसको आप अपने ब्रेकफास्ट में ज़रूर शामिल करे।

आवश्यक सामग्री – ingredients for sattu ki kachori recipe

डो बनाने के लिए

  • मैदा = 250 ग्राम
  • पिघला हुआ घी = 60 ग्राम
  • कलोंजी = 1/3 टीस्पून
  • अजवाइन = ½ टीस्पून
  • नमक = स्वाद अनुसार

स्टफिंग के लिए

  • हींग = 1 पिंच
  • ज़ीरा = 1 टीस्पून
  • सौंफ = 1 टीस्पून
  • अदरक = 1 इंच का टुकड़ा बारीक चोप कर ले
  • हरी मिर्च = 3 बारीक काट ले
  • हल्दी पाउडर = ½ टीस्पून
  • लाल मिर्च पाउडर = ¾ टीस्पून
  • धनिया पाउडर = 1 टीस्पून
  • गर्म मसाला पाउडर = ½ टीस्पून
  • नमक = स्वाद अनुसार
  • दही = 2 टीस्पून
  • निम्बू = 1 मीडियम साइज़ का
  • सत्तू = 50 ग्राम
  • ऑइल = 2 टेबलस्पून

फ्राई करने के लिए

  • ऑइल = कचौरी को डीप फ्राई करने के लिए

विधि – How to make sattu ki kachori

कचौरी बनाने के लिए पहले डो लगाकर रख ले। एक बाउल में मैदा, कलोंजी, स्वाद अनुसार नमक और अजवाइन डालकर मिक्स कर ले। अब इसमें मोयन के लिए सारा पिघला हुआ घी डालकर मैदे में अच्छी तरह से हाथ से मिक्स कर ले। जिससे मैदे के हर रेशे में बहुत अच्छी तरह से घी पहुँच जाएँ।

जब घी मिक्स हो जाएँ तब थोड़े से मैदे को हाथ में लेकर इसकी मुट्ठी बांधकर देख ले। अगर मैदा बंध रहा हैं तब मोयन के लिए डाला गया घी सही हैं। अगर मुट्ठी नही बंधती हैं, तो इसमें थोड़ा घी और डालकर मिक्स कर ले।

अब गुनगुने पानी को थोड़ा-थोड़ा डालकर मैदे को मिक्स करते हुए सॉफ्ट डो बनाकर रख ले। डो को आपको बहुत देर तक मसलना नही हैं। इतना मिक्स करे की मैदा बंध जाएँ। फिर डो को 20 मिनट के लिए ढककर रेस्ट के लिए छोड़ दे। (अगर डो रेडी करते वक़्त आपके हाथ पर चिपकता हैं तो हाथ पर थोड़ा सा ऑइल लगाकर डो बना ले)

फिर स्टफिंग रेडी कर ले। एक पैन में 2 टेबलस्पून ऑइल डालकर गर्म होने के लिए रख दे। ऑइल गर्म होने पर आंच को धीमा कर ले। फिर इसमें सौंफ, ज़ीरा, हरी मिर्च, अदरक और हींग डालकर थोड़ा सा फ्राई करे।

उसके बाद इसमें हल्दी पाउडर डालकर इसको भी थोड़ा सा भून ले। फिर सत्तू डालकर इसको भी चम्मच से लगातार चलाते हुए 30 सेकंड भून ले। फिर इसमें नमक, लाल मिर्च का पाउडर, धनिया पाउडर और गर्म मसाला पाउडर डालकर मिक्स करते रहे।

मिक्स करते हुए धीमी आंच पर चम्मच से सत्तू को मैश करते हुए एक से डेढ़ मिनट भून ले। जिससे मसाले भुन जाएँ उसके बाद गैस को बंद कर दे। आपको स्टफिंग सूखी-सूखी लगेगी।

लेकिन कचौरी में स्टफिंग को ड्राई नही भरना हैं। इसलिए स्टफिंग को बाइंड करने इसमें पहले एक निम्बू को निचोड़कर डाल ले और मिक्स कर ले।

उसके बाद इसमें दही डालकर मिक्स कर ले। ऐसा करने से स्टफिंग बंध जाएँगी और आसानी से कचौरी में फिल भी हो जाएँगी।

स्टफिंग को ठंडा होने दे। 20 मिनट बाद डो को चेक कर ले।डो पर थोड़ा सा ऑइल डालकर हल्का सा मसल ले। फिर आप अपनी पसंद से कचौरी को बड़ा या छोटा जिस तरह से बनाना चाहते हो उसी हिसाब से डो से लोइयां तोड़कर रख ले और लोई को ढककर रख ले। जिससे ये ड्राई ना हो।

अब एक लोई लेकर इसका पेड़ा बनाकर हथेली से प्रेस कर ले फिर इसको उंगलियों और अंगूठे की हेल्प से कटोरी की शेप दे ले। आप मैदे की कटोरी बना रहे हैं, तो ये किनारों से पतली होनी चाहिए और बीच में मोटी रहनी चाहिए।

फिर इसमें स्टफिंग को रखकर किनारों को एक-दूसरे के पास में लाते हुए बंद कर ले और इसको हाथ से हल्का सा प्रेस कर ले।

इसी तरह से एक बार में 5 से 6 कचौरी बनाकर रख ले। अब बेलन पर और चकले या बोर्ड पर हल्का सा ऑइल लगाकर इसपर कचौरी को रख ले।

अब बेलन से कचौरी को किनारों से बहुत हल्के-हल्के हाथ से प्रेस करते हुए बेल ले। इसी तरह से बाकी की भी बेल ले। (कचौरी को तेज़ हाथ से नही बेलना हैं। बहुत धीरे-धीरे बेलन से कचौरी को किनारों से बेलना हैं। बीच से ना बेले वरना ये पतली हो जाएँगी।)

अब एक कढ़ाई में कचौरी को फ्राई करने के लिए ऑइल डालकर गर्म होने के लिए रख दे। ऑइल को चेक करने के लिए इसमें डो का छोटा सा टुकड़ा डालकर देख ले। अगर ऑइल में हल्के-हल्के बबल्स आ रहे हैं। तब ऑइल कचौरी को फ्राई करने के लिए परफेक्ट हैं। क्यूंकि कचौरी को फ्राई करने के लिए ऑइल कम गर्म ही होना चाहिए और आंच को धीमा कर ले। फिर इसमें 2 से 3 कचौरी डालकर इनको कुछ टाइम इसी तरह से इस साइड ऑइल में रहने दे। इनको टच ना करे जब तक कचौरी फ्राई हो रही हैं, इतने जितनी कचौरी आप बना सकते हैं उतनी बनाकर रख ले।

जब ये 4 से 5 मिनट में नीचे की साइड से हल्का-हल्का कलर चेंज करने लगे, तब इनको पलट ले और कचौरी को दोनों साइड से थोड़ी-थोड़ी देर में पलटकर इनपर गोल्डन कलर आने तक फ्राई कर ले।

फिर इनको प्लेट में निकाल ले और इसी तरह से बाकी की भी फ्राई कर ले। आपकी खस्ता कचौरी बनकर रेडी हैं। इनको आप सॉस या चटनी के साथ खा सकते हैं। ये बहुत आसान और टेस्टी कचौरी हैं।

Image Source: Nisha Madhulika

Recipe Source: Nisha Madhulika

Sattu Ki Kachori Recipe

Prep Time10 mins
Cook Time40 mins
Course: Breakfast Recipe
Cuisine: Bihar
Keyword: aloo kachori, Atta kachori recipe, Kachori Recipes, Pyaz ki khasta kachori
Servings: 3 people
4.6/5 - (8 votes)

Leave a Comment

join us on telegram zayka recipes