इस तरीके से बनाओगे मसालेदार खारी बूंदी तो स्वाद होगा बड़ा मज़ेदार

कुरकुरी खारी बुंदी स्वादिष्ट और प्रसिद्ध है। यह नाश्ता दक्षिण भारतीय का है। इसलिए इसको ज्यादातर लोग दीवाली पर बनाते हैं, और इसे आप बाजार की जगह अगर घर पर बनाएंगे तो ज्यादा अच्छा है। अगर आप दिवाली वाले दिन कुछ नाश्ता बनाना चाहते हैं तो इस रेसिपी को जरूर ट्राई करें।

खारी बुंदी बनाते समय कुछ ऐसी बातें हैं जिनका ध्यान रखना बहुत जरूरी है। सबसे पहली बात की बूंदी की स्थिरता होनी चाहिए। खारी बूंदी बनाते समय इस बात का ध्यान अवश्य रखें की बूंदी का आकार हमेशा गोल होना चाहिए और बूंदी थोड़ी खारी बननी चाहिए।

आवश्यक सामग्री – necessary ingredients – khari bundi recipe

  • बेसन = एक कप
  • चावल का आटा = दो चम्मच
  • हींग = चुटकी भर
  • लाल मिर्च पाउडर = स्वाद अनुसार
  • कड़ी पत्ता = तीन-चार अदद
  • काजू = कटे हुए एक चम्मच
  • तेल = दो चम्मच
  • मूंगफली = चार-आठ दाने
  • नमक = अपने हिसाब से

बनाने की विधि – how to make khari bundi

जब भी आप बूंदी बनाएं तो उसकी व्यवस्था पहले ही कर ले। आपको बूंदी बनाने के लिए दो करछुल की जरूरत पड़ सकती है। सबसे पहले बूंदी बनाने के लिए करछुल की जरुरत पड़ेगी और दूसरी करछुल बूंदी में से तेल को निकालने के लिए।

अब एक बड़ा पतीला ले। उसमें बेसन डाल ले। फिर चावल का आटा, एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर, हींग और अपने स्वाद के हिसाब से नमक डालकर इस पूरे मिश्रण को अच्छे से मिला ले। अब इसका एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर ले।

उसके बाद मिश्रण में एक साथ सारा पानी ना डालें, बल्कि थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए मिश्रण को मुलायम होने तक फेंटते रहें। उसके बाद उसमें दो चम्मच तेल डाल दें। अब सबसे बड़ी बात यह है कि बेसन के बहाव में स्थिरता होना बहुत जरुरी है, वरना आपकी खारी बूंदी के छोटे-छोटे बॉल्स सही तरीके से नहीं बन पाएंगे।

अब आप मिश्रण की स्थिति जानने के लिए एक तरीका अपना सकते हैं। उसके लिए सबसे पहले एक चम्मच ले उसको मिश्रण में पीछे के भाग को डुबो दें और कड़ाही में चढ़े गरम तेल में इस मिश्रण को डालें। अगर यह मिश्रण तेल में गिरते समय सही गोलाकार में गिर रहा है तो मिश्रण का बहाव यानी कि यह पोस्ट बिल्कुल सही है।

जब तक आपके बूंदी का रंग हल्का सुनहरा ना हो जाए तब तक उसको तेल के अंदर तलते रहना है। अगर आपकी बूंदी का रंग सुनहरा भूरा हो गया है तो उसको प्लेट में निकालें और प्लेट में पहले से टिशू पेपर लगा कर रखें। ताकि अतिरिक्त तेल उसमें से निकल जाए। फिर बचे हुए तेल के साथ भी यही प्रक्रिया कराएं।

आप की कुरकुरी बूंदी तैयार हो गई है। अब उसको और मसालों के साथ मिक्स करने के लिए एक कडाही में मूंगफली, कडीपत्ता कुरकुरा होने तक चलाना है और उसको भी एक प्लेट में निकालकर अलग से रख ले। अब पतीला ले उसके अंदर बूंदी,कढ़ी पत्ता, मूंगफली, काजू, एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर और अपने स्वाद के हिसाब से नमक डालें अब इन सब को अच्छे से मिला लें। अब यह बिल्कुल तैयार है, खारी बूंदी को आप काफी दिन तक एयरटाइट बंद डब्बे में स्टोर कर के रख सकते हैं।

सुझाव

अगर आप की खारी बूंदी समतल बन रही है तो इसका मतलब है कि आप का मिश्रण पतला हो गया है। उस मिश्रण को गाढ़ा करने के लिए आप उसमें एक दो चम्मच बेसन डाल दें। अगर आप अपनी खारी बूंदी को थोड़ा मीठा बनाना चाहते हैं तो उसके अंदर शक्कर भी डाल सकते हैं।

शेयर करें:

Leave a Comment