पराठे को ज्यादा क्रिस्पी व टेस्टी बनाने के लिए अपनाये ये तरीके

मूली, प्याज़ व गोभी के पराठे बनाते समय अक्सर ही इनके भरावन में मसाला मिलाने के बाद में पानी निकल जाता है। जिससे पराठा बेलते समय फट जाते हैं अगर आपके साथ भी ऐसी ही प्रेब्लम आती है तो ये टिप्स अपनाएं।

टिप्‍स

मूली के पराठे बनाने से पहले मूली को धोकर छीलें ताकि इसका पानी अच्छी तरह से सूख जाए। फिर इसे कद्दूकस कर लें अगर आप चाहें तो इसे सुखाने के लिए कपड़े से भी साफ सकती हैं।

मूली को कद्दूकस करने के बाद हाथों से दबाकर उसका पानी अच्छी तरह से निचोड़ लें ताकि इनका सारा अतिरिक्त पानी निकल जाए।

अगर आपके पास थोडा ज़्यादा टाइम है तो फिर कद्दूकस की हुई मूली को एक साफ कपड़े में बांधकर इसका पानी निचोड़ लें।

कद्दूकस की हुई मूली को कढ़ाई में गर्म करके भी इसका पानी सूखाया जा सकता हैं। कढ़ाई में मूली का पानी सुखाते समय ही इसमें नमक भी डाल दें ताकि यह अच्छे से मूली में मिक्स हो जाए।

प्याज़ के पराठे बनाते टाइम प्याज़ को कद्दूकस कर लें या फिर बारीक-बारीक चोप कर लें।

फिर इसके बाद कटी हुई प्याज़ को अपनी हथेलियों से दबाकर सारा पानी निचोड़ दें। या कपड़े में बांधकर अच्छे से निचोड़ लें।
गोभी को धोने के बाद दस से पंद्रह मिनट तक ऐसे ही रहने दें ताकि इसका सारा पानी निथर जाए फिर कद्दूकस करने से पहले इसे अच्छी तरह से झटक दें। ताकि इसका सारा पानी निकल जाएं फिर कद्दूकर करें।

गोभी को भूल से भी बॉइल करके कदूदकस न करें मूली, गोभी व प्याज़ के पराठे बनाते समय भरावन में नमक जभी डालें जब आटे की लोई में भरावन भरना हो। अगर मिश्रण में पहले से नमक डाल देंगी तो वह पानी छोड़ने लगेगा।

अगर पराठों में देसी स्वाद चाहते हो तो फिर बाजार के बटर की जगह घर के बने देसी घी से खाएं।

अगर आप चाहें तो मूली और प्याज़ को कद्दूकस कर भरावन न बनाकर के इसे आटे में मिलाकर भी गूंध सकती हो।

अगर आपको मूली और प्याज़ का पानी निकालना याद नहीं रहा हैं और भरावन में मसाले डाल दिए हैं तो फिर इसमें थोड़ा सा सूखा आटा या फिर बेसन मिला लें।

शेयर करें:

Leave a Comment