असली और नकली हल्दी कि इस तरह करे पहचान

भारतीय सभ्यता में हल्दी का प्रयोग आयुर्वेद से लेकर के खानपान की सारी चीजों में होता आ रहा है। लेकिन वक्त के साथ-साथ हल्दी में भी मिलावट की जाने लगी है।

हल्दी में मेटानिल येलो नामक रंग की मिलावट कि जाती है। जो कि एक खतरनाक बीमारी कैंसर का कारण भी बन सकती है। आज हम आपको बतायेंगे कि घर में कैसे जाचे कि जो हल्दी हम प्रयोग में लाते हैं वह असली है भी या नहीं।

इसके लिए आप एक गिलास में गर्म पानी लें और उसकी सतह पर एक चम्मच हल्दी डाल दें। इसे चलाएं नहीं 20 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें।

अगर हल्दी नीचे बैठ जाती है और ऊपर का पानी एकदम साफ रहता है तो फिर आपकी हल्दी असली है और अगर पानी धुंधला हो जाता है तो फिर समझ लें कि इसमें मिलावट कि गई है।

haldi powder

5 बूँद पानी और 5 बून्द हाइड्रोक्लोरिक एसिड की मिलाएं अगर हल्दी का रंग जामनी या फिर गुलाबी हो जाएं तो भी हल्दी में मिलावट हुई है।

हल्दी पाउडर में ही नहीं बल्कि आजकल साबुत हल्दी में भी मिलावट हो रही हैं आप इसकी जांच करने के लिए हल्दी के एक टुकड़े को एक पेपर पर रखें और फिर उसके ऊपर ठंडा-ठंडा पानी डाल दे।

पानी डालते ही हल्दी के टुकड़े से अगर रंग निकलने लगे तो फिर समझ जाएं कि इसे पॉलिश किया गया है और ये असली हल्दी नहीं हैं।

शेयर करें:

2 thoughts on “असली और नकली हल्दी कि इस तरह करे पहचान”

Leave a Comment