दाल बाटी बनाने की सिंपल, सरल रेसिपी Dal Bati Recipe in Hindi

Dal Bati Recipe in Hindi दाल बाटी (Dal bati) एक पारंपरिक राजस्थानी व्यंजन (rajasthani food) है जो की पुरे भारत में उसके बढ़िया स्वाद के कारण लोकप्रिय है। इसमें घी से लथपथ बाटी को पंचमेल दाल (पांच प्रकार की दाल से बनी मिश्र दाल), लहसून की चटनी और चूरमा (Churma) के साथ सर्व किया जाता है। पारंपरिक तरीके में तो बाटी को सीधे गर्म लकड़ी के कोयलों के ऊपर सेंका जाता है लेकिन इस तरीके से घर पर बाटी बनाना काफी मुश्किल है।

हालांकि, इसका यह मतलब नहीं है कि आप घर पर दाल बाटी का मज़ा ही नहीं उठा सकतें। zayka recipes के जरिए हम घर पर कैसे बहुत ही आसानी से बाटी बनाते है वो दिखाया गया हैं आप या तो ओवन का उपयोग कर सकते है या फिर तंदूर का, और अगर आपके पास ओवन या तंदूर दोनों में से कुछ भी नहीं हैं तो आप बाटी को तेल में तलकर बना सकते है।

आवश्यक सामग्री – necessary ingredients – Dal Bati Recipe in Hindi

  • गेहूं का आटा =  एक कप
  • सूजी = 1/4 कप
  • बेकिंग सोडा = एक चुटकी
  • घी या तेल = 4 टेबलस्पून पिघला हुआ घी, बाटी डुबोने के लिए
  • नमक = स्वादअनुसार
  • दूध या पानी =  जरूरत के अनुसार
  • पंचमेल दाल =  परोसने के लिए

विधि – how to make Dal Bati Recipe in Hindi

ओवन को 190 डिग्री सेल्सियस (375 डिग्री फारेनहाइट) पर प्रिहीट करें। एक परात में गेहूं का आटा छान लें और इसमें सूजी, बेकिंग सोडा, 4 टेबलस्पून घी, (या खाना पकाने का तेल) और नमक डालें (और अगर आप चूरमा बनाने के लिए बाटी बना रहे है तो फिर नमक ना डालें)।

सारी सामग्री को खूब अच्छी तरह से मिक्स कर ले। अब इसमें थोड़ा-थोड़ा करके दूध डालें और सख्त आटा गूँथ लें। यह पराठे के आटे से थोड़ा सख्त होना चाहिए अब इसे ढककर 15 से 20 मिनट के लिए रख दे।

daal bati Churma

अब आटे को 8 बराबर के भागों में बाँट ले और उन्हें गोले का आकर दें। अगर आटे के गोले में कुछ दरारें हैं तो इसकी चिंता ना करे यह बिलकुल सामान्य है। हर एक गोले को बारी-बारी से अपनी हथेलियो के बीच में दबाएं और इन्हें एक बेकिंग ट्रे पर रख दे

बेकिंग ट्रे को पहले से गरम ओवन में रखें और 375 F (190 C) पर पकने दे जब नीचे की सतह हल्के भूरे रंग की हो जाएं तो बेकिंग ट्रे को बाहर निकाले, इसमें करीब 12 से 15 मिनट का समय लगेगा।

अब प्रत्येक बाटी को पलटे और फिर से बेकिंग ट्रे ओवन में रख दे इन्हें 10 से 12 मिनट के लिए या जब तक की नीचे की सतह सुनहरे भूरे रंग की हो जाए तब तक पकने दे। अब ट्रे को ओवन में से बाहर निकाले।

bati

अब एक छोटी सी कटोरी में पिघला हुआ घी लो और प्रत्येक बाटी को घी में डुबाके एक थाली में रखे (आप बाटी को घी में डूबाने के बदले ब्रश से भी बाटी के ऊपर घी लगा सकते है)अब बाटी को तोड़े और उसके ऊपर थोड़ा सा घी डालें। और उसके उपर पंचमेल दाल डालें और राजस्थानी चूरमा, लहसुन की चटनी और पापड़ के साथ सर्व करे।

सुझाव

बाटी को गैस तंदूर में कैसे पकाएं?

गैस तंदूर को अच्छे से गर्म करें। तंदूर की ग्रिल पर कच्ची बाटी रखे और 20 से 25 मिनट के आसपास मीडियम आंच पर पकाइएं और दोनों तरफ से अच्छे से पके इसके लिए बीच में एक बार बाटी को पलटें।

ओवन या तंदूर के बिना बाटी कैसे बनाएं?

बाटी को मीडियम कम आंच पर तेल में दोनों तरफ से हल्के सुनहरे भूरे रंग की हो जाने तक तले। क्यूंकि बाटी मोटी होती हैं इसे अंदर से पकाने के लिए अधिक समय लगेगा, इसलिये इसे मीडियम (धीमी) आंच पर ही पकाइये।

विभिन्न कंपनी के ओवन में अलग-अलग सेटिंग होती है, तो इसके अनुसार पकाने का समय थोड़ा कम या ज्यादा हो सकता है।

अगर हो सके तो कुरकुरी बाटी बनाने के लिए आटा गूंथते वक्त तेल के बदले में घी का उपयोग करें। और घी की मात्रा कम ना करें।

सर्व करने का तरीका

बाटी को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़े और उसके ऊपर थोड़ा सा घी और पंचरतन दाल (पंचमेल दाल) डालके एक पौष्टिक राजस्थानी भोजन के रूप में चूरमा के साथ सर्व करे।

keyword: dal bati recipe in hindi, dal bati banane ki vidhi, dal bati banane ka tarika, rajasthani dal bati ki recipe, dal bati kaise banate hain

शेयर करें:

Leave a Comment