ये एक रोटी कब्ज, बवासीर, जुकाम और रूसी को कर देगी जड़ से खत्म

chane ki roti ke fayde चना बॉडी में ताकत लाने वाला एक बहुत ही उर्जावान फ़ूड होता है जो भोजन में रुचि पैदा करने वाला भी होता है। chane ke aate ki roti ke fayde सूखे भुने चने बहुत ही रूक्ष-वात तथा कुष्ठ को खत्म करने वाले होते हैं। उबले हुए चने कोमल, पित्त, कमजोरी नाशक, रुचिकारक, शीतल, कषैले, ग्राही, वातकारक, हल्के, कफ और पित्त नाशक होते हैं।

चना हमारी बॉडी में फुर्ती लाता है। खून में एकदम जोश पैदा कर देता है। ये जिगर और प्लीहा के लिए भी बहुत ही लाभकारी होता है। चना तबियत को नर्म कर खून को साफ करता है।

आवाज को भी साफ कर देता है रक्त सम्बन्धी बीमारियों और बादी में भी काफी लाभदायक होता है। इसके खाने से पेशाब भी खुलकर आता है। इसको रात में पानी में भिगोकर खाने से बॉडी में ताकत आती है।

चना ख़ासकर किशोरों, जवानों और मेहनत करने वाले सभी लोगो के लिए एक बहुत ही पौष्टिक नाश्ता होता है।

चने की रोटी बनाने की आसान विधि – chane ki roti ke fayde

चने की रोटी काफी टेस्टी होती है। छिलके समेत चनो को पीसकर आटा बनाकर फिर इसकी रोटी बनाई जाती है। अगर इस आटे में ज़रा सा गेहूं का आटा मिला दें तो फिर ये मिस्सी रोटी कहलाती है। इसे गूंधकर रख दें फिर तीन घंटे बाद दुबारा से गूंधकर रोटी बना लें।

यह रोटी त्वचा संबंधी रोग जैसे कि दाद, खाज, खुजली, एक्जिमा में काफी फायदेमंद होती है इसमें सब्जी का जूस मिला देने से यह और भी लाभकारी हो जाती है।

बच्चों को मंहगे बादाम की बजाएं काले चने खिलाने चाहिए इससे ये ज़्यादा स्वस्थ रहेंगे। जहां एक अंडे में एक ग्राम प्रोटीन और 30 कैलोरी ऊष्मा की प्राप्ति होती है वही पर काले चने से 41 ग्राम प्रोटीन और 864 कैलारी उष्मा की प्राप्ति होती है।

चने खाने में चार अद्भुत फ़ायदे जो आप नहीं जानते chane ke fayde

नजले जुकाम में – nazla zukam ka ilaj

50 ग्राम भुने चनों को एक सूती कपड़े में बांधकर इसकी पोटली बना लें। फिर इस पोटली को हल्का सा गर्म करके अपनी नाक पर लगाकर सूंघ लें ऐसा करने से आपकी बंद नाक खुल जाएंगी फिर आपको सांस लेने में भी कोई परेशानी नहीं होगी। चने को पानी में बॉईल करके फिर इस पानी को पी लें और चनो को खा लें। चने में स्वाद लाने के लिए इसमें काली मिर्च पाउडर और स्वादानुसार नमक डाल लें। चनो का रोज़ाना सेवन करना नजले में बहुत फायदेमंद होता है।

कब्ज – kabz ke gharelu upay in hindi – ankurit chane ke fayde

एक या दो मुट्ठी चनों को अच्छे से धोकर रात में भिगो कर रख दें। सुबह ज़ीरा और सोंठ को बारीक़ पीसकर चनों पर ऊपर से डालकर खाएं। फिर एक घंटे बाद चने भिगोएं हुए पानी को भी पी लें इससे कब्ज दूर हो जाता है।

अंकुरित चना, अंजीर व शहद को एक साथ मिलाकर या फिर गेहूं के आटे में चने का आटा मिलाकर इसकी रोटी खाने से कब्ज खत्म हो जाता हैं। रात को करीब 50 ग्राम चनो को भिगो कर रख दें। फिर सुबह इन चनों को ज़ीरा और नमक के साथ खाने से भी कब्ज की शकायत दूर हो जाती है।

रूसी – hair dandruff home treatment in hindi

4 बड़े चम्मच चने के बेसन को एक गिलास पानी में अच्छे से घोलकर अपने बालों पर लगा लें। इसके दस से पंद्रह मिनट बाद सर को धो लें। इससे सर की रूसी दूर हो जाती है।

खूनी बवासीर – khooni bawaseer ka gharelu upay

चनो को सेककर गर्म-गर्म खाने से खूनी बवासीर में काफी लाभ मिलता है।

शेयर करें:

Leave a Comment